Follow by Email

Friday, November 8, 2013

चाह हो तुम .....

Dedicated 2 my Ashu bhaiya ....
राह   भी तुम , आह भी तुम
धड़कते दिल की चाह भी तुम। …
ना परवाह तुम्हे चाह की , ना दिल में तुम्हारे राह मेरी। …

जी रहा हूँ दिल में मोहब्बत की  शमा जलाये। ....

सुना  है कि जलाने और तपाने से तो पत्थर भी सोना (गोल्ड ) बन जाता है। …।

-प्रियंका त्रिवेदी। ...